सुप्रीम कोर्ट ने क्रिकेटर श्रीसंत से हटा आजीवन प्रतिबंध,BCCI को 3 महीने में पुनर्विचार का दिया आदेश!

0
8

बीसीसीआई ने श्रीसंत पर आईपीएल-2013 में स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाए जाने पर अजीवन प्रतिबंध लगाया था।  इसके खिलाफ श्रीसंत ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। सुप्रीम कोर्ट ने इस पूर्व गेंदबाज पर लगा आजीवन प्रतिबंध खत्म कर दिया है। यानी श्रीसंत अब फिर से क्रिकेट खेल पाएंगे। साथ ही न्यायालय ने बीसीसीआई की कमेटी को तीन माह के भीतर श्रीसंत पर कार्रवाई को लेकर दोबारा विचार करने का आदेश भी दिया है।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने श्रीसंत को आंशिक राहत दी है। श्रीसंत के पक्ष में वह दलील गई, जिसमें उन्होंने कहा था कि जब निचली अदालत और हाईकोर्ट से राहत मिल गई तो मुझसे आजीवन प्रतिबंध क्यों नहीं हटाया जा रहा। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने श्रीसंत के पक्ष में फैसला सुनाते हुए आजीवन प्रतिबंध तो हटा दिया, लेकिन बीसीसीआई की संस्थानात्मक कार्रवाई को ध्यान में रखते हुए तीन महीने में अपने फैसले को लेकर विचार करने को भी कहा है।

सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद श्रीसंत ने कहा कि वो फिर से मैदान में उतरने को तैयार हैं। तीन महीने के अंदर बीसीसीआई को फैसला लेना है। लेकिन ये ज्यादा नही है जहां मैंने इतना लंबा इंतजार किया है। मैं लिएंडर पेस को आदर्श मानता हूं।जब वो 45 साल की उम्र में ग्रैंडस्लैम खेल सकते हैं। नेहरा 38 साल की उम्र में वर्ल्डकप खेल सकते हैं तो मैं क्यों नहीं मैं तो केवल 36 साल का हूं। मेरी प्रैक्टिस जारी है।

बता दे की जुलाई 2015 में श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजीत चंदीला सहित स्पॉट फिक्सिंग मामले में सभी 36 आरोपरियों को पटियाला हाऊस कोर्ट ने आपराधिक मामले से बरी कर दिया था।बता दे की श्रीसंथ ने साल  2005 में वन-डे और 2006 में टेस्ट करियर की शुरुआत करने वाले श्रीसंत ने 27 टेस्ट में 87 विकेट चटकाए तो 53 वन-डे 75 विकेट उनके नाम है।

SHARE
Previous articleSupreme Court lifts life ban on Sreesanth in spot-fixing case
Next articleArjun Kapoor finally opens up on his wedding rumours with Malaika Arora
Is a Content writer and He has dealt with diverse areas in content writing, and writing has been his passion. He has been associated with FilmyDrama since past five years being ardent Bollywood fans that enable him to produce quality articles.

LEAVE A REPLY